Online India

  2017-01-11

अब ट्रैफिक नियमों की अनदेखी पड़ेगी चार गुना भारी, नए नियम हुए जारी

OnlineCG Report। अब आपको अगर लाइसेंस बनाना है तो 350 रुपए की जगह करीब 1200 रु देने होंगे। यानी लाइसेंस बनाने में होने वाला खर्च करीब चार गुना बढ़ा दिया गया है। इसी तरह अगर बिना लाइसेंस गाड़ी चलाते पकड़े गए तो 500 नहीं बल्कि 5000 रुपए तक जुर्माना देना होगा।

भारत सरकार ने केंद्रीय मोटर यान नियम 1989 में भारी फेरबदल किया है। इसके साथ ही मीडियम, हेवी व्हीकल के फिटनेस प्रमाण पत्र की फीस और जुर्माने में भी दो से तीन गुना की बढ़ोत्तरी कर दी है। भारत सरकार के गजट नोटिफिकेशन की कापी मिलने के बाद प्रदेश के सभी परिवहन दफ्तर लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन फीस का अपग्रेडेशन कर रहे हैं। अपग्रेडेशन के लिए पिछले दो दिनों से सभी आरटीओ दफ्तर बंद है। बुधवार देर शाम तक अपग्रेडेशन होने की उम्मीद है। इसके बाद सभी तरह के लाइसेंस व फिटनेस प्रमाण पत्र नई दरों के साथ लिए जाएंगे।

फिटनेस नहीं कराया तो साल का 18250 रु जुर्माना

मीडियम व हेवी व्हीकल गाड़ियों की फिटनेस फीस में भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। एमजीवी ओर एलजीवी गाड़ियों के फिटनेस टेस्ट की फीस अब तक 300 रुपए थी, उसे बढ़ाकर 400 रुपए कर दिया गया है। मगर इसमें विशेष बात यह है कि फिटनेस कराने में एक दिन की भी देरी अगर गाड़ी मालिक ने की तो गाड़ी पर प्रतिदिन 50 रुपए का फाइन लगेगा। यानी कि साल भर फिटनेस नहीं कराया तो 18250 रुपए फाइन लगेगा। पहले यह फाइन 100 रुपए सालाना था। इस वजह से गाड़ी मालिक तीन से पांच साल तक गाड़ियों का फिटनेस टेस्ट ही नहीं कराते थे। इससे पुरानी व कंडम गाडिय़ां सड़कों पर चलती रहती हैं। इससे प्रदूषण तो होता ही था, दुर्घटना की भी आशंका बनी रहती थी।

गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन फीस में भी इजाफा

सभी तरह की गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन फीस में भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। मोटर साइकिल की रजिस्ट्रेशन फीस 60 रुपए से बढ़ाकर 300 रुपए, कार की 200 से 600रुपए, मीडियम व्हीकल यानी कि 407 व डीआई गाड़ियों की 400 से 1 हजार, एलजीवी की 600 से 1500 रुपए, विदेशी कार यानी कि बीएमडब्ल्यू, मर्सिडीज, ऑडी सहित अन्य का रजिस्ट्रेशन 800 से 5 हजार रुपए, विदेशी मोटर साइकिल अन्य का 200 से बढ़ाकर 2500 रुपए कर दिया गया है।

रेड सिग्नल क्रास करने पर भी जुर्माना कई गुना बढ़ा

सड़क पर मोटर व्हीकल एक्ट के नियमों का उल्लंघन करने वाले दोपहिया व चार पहिया सवार पर जुर्माना कई गुना बढ़ा दिया गया है। बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने वालों पर अब तक 500 रुपए जुर्माना लगाया जाता था, इसे बढ़ाकर 5 हजार रुपए कर दिया गया है। उसी तरह से रेड सिग्नल क्रास करने, कार में बिना सीट बेल्ट गाड़ी चलाने का जुर्मान भी कई गुना बढ़ा दिया गया है। जुर्माने की राशि लगभग दस गुना बढ़ाई गई है। आरटीओ अधिकारियों ने बताया कि नियम बन गए हैं, अभी जुर्माने की पूरी डिटेल नहीं आई है।

अपग्रेडेशन हो रहा

प्रदेश के सभी आरटीओ दफ्तर में फीस के मुताबिक अपग्रेडेशन किया जा रहा है। उम्मीद है कि एक से दो दिन के भीतर बढ़ी फीस के साथ साफ्टवेयर तैयार हो जाएगा। परसों से बढ़ी फीस पर ही लाइसेंस सहित सभी तरह के प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे।

ओपी पाल, ट्रांसपोर्ट कमिश्नर

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like