Online India

  2016-09-07

दिल्ली में पीएम करेंगे कुंवरबाई का सम्मान

OnlineCG Desk जिले के कोटाभर्री गांव की रहने वाली 104 वर्षीया कुंवरबाई का अब दिल्ली में सम्मान किया जाएगा। 17 सितंबर को स्वच्छता दिवस पर आयोजित समारोह में पीएम मोदी उन्हें सम्मानित करेंगे और कुंवरबाई की बेटी पीएम मोदी को राखी बांधेगी। कुंवरबाई यादव पिछले साल तब चर्चा में आई थीं जब उन्होंने शौचालय बनाने के लिए अपनी बकरियां बेच दी थीं। यह खबर जब पीएम मोदी तक पहुंची तो उन्होंने इसे स्वच्छ भारत की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम माना।

उसके बाद पीएम जब छत्तीसगढ़ दौरे पर आए तो डोंगरगढ़ में मंच पर कुंवरबाई का सम्मान करते हुए उनके पैर छुए। इस घटना के बाद से कुंवरबाई को देश भर में प्रसिद्धि मिली। स्वच्छता अभियान का वह एक रोल मॉडल बन गईं। 17 सितंबर को नई दिल्ली के मावलंकर ऑडिटोरियम में सुबह 11 बजे से समारोह होना है। इस अवसर पर उन्हें एनजीओ सुलभ इंटरनेशनल सोशल सर्विस आर्गनाइजेशन द्वारा 2 लाख रुपए भी दिए जाएंगे। सम्मान ग्रहण करने कुंवरबाई के साथ उनकी बेटी सुशीला, नाती बुधराम, सरपंच वत्सला, जोहन यादव भी दिल्ली जाएंगे। कुंवरबाई की बेटी सुशीला पीएम मोदी को राखी बांधने की तैयारी कर चुकी है। राखी भी खरीद ली है। सुशीला के चार भाई थे। सभी की मौत हो गई है। उसने कहा- "मां ने प्रधानमंत्री को बेटा माना है, इसलिए मैं प्रधानमंत्री को भाई मानते हुए राखी बांधना चाहती हूं।" साथ ही देश में भी परिचय होगा कि धमतरी के एक छोटे से गांव कोटाभर्री में उनकी बहन रहती है।

कलेक्टर ने कुंवरबाई को ओडीएफ (खुले में शौचमुक्त) का ब्रांड एंबेसडर बनाया था। शासन ने मुआवजे के तौर पर उन्हें बकरियां लाकर दी थीं। दिल्ली में सम्मान ग्रहण करने कुंवरबाई 15 सितंबर को रवाना होंगी। जब उनसे तैयारियों के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि वे ग्रामीण लिबास में ही अपनी बुढ़ापे की लाठी के साथ जाएंगी, न कोई खरीदी की है और न करने की सोच रहीं हैं।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like