Online India

OnlineIndia   2018-09-30

भारत में फिर लौट सकती है पोलियो की बीमारी, इन राज्यों में अलर्ट

OnlineIndia डेस्क l आम जनता के स्वास्थ्य को लंबे समय तक नुकसान पहुंचाने वाला पोलियो एक बार फिर भारत में लौट सकता है। दरअसल, राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद स्थित मेडिकल कंपनी बायॉमेड द्वारा बनाई गई ओरल पोलियो वैक्सीन में टाइप-2 पोलियो वायरस पाए गए हैं। आपको बता दें कि सालों पहले भारत को पोलियो मुक्त घोषित किया जा चुका है। 

ऐसी स्थिति में आशंका जताई जा रही है कि यह बीमारी एक बार फिर से भारत में फैल सकती है। इसी के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्रालय और संबंधित विभागों ने इसका हल निकालने के लिए कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, 'संभवत: ये वैक्सीन महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में इस्तेमाल की गईं, इसलिए हमने दोनों राज्यों को अलर्ट कर दिया है।'

उत्तर प्रदेश में पाए गए सैंपल की जांच के बाद सामने आया मामला अधिकारी ने यह भी बताया कि सरकार द्वारा चलाए जा रहे पोलियो वैक्सिनेशन अभियान के लिए बायॉमेड कंपनी वैक्सीन की सप्लाई कर रही थी। सबसे पहले यह मामला तब सामने आया, जब उत्तर प्रदेश के कुछ बच्चों के मल में इस वायरस के लक्षण पाए गए। इन सैंपल्स को जांच के लिए भेज दिया गया। अधिकारी के मुताबिक, जांच में यह पुष्ट हुआ कि सैंपल में टाइप-2 पोलियो वायरस मौजूद हैं।

जांच में पुष्टि होने के बाद बायॉमेड के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई और इसके मैनेजिंग डायरेक्टर को गुरुवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया। इसके अलावा ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने अगले आदेश तक बायॉमेड को किसी भी दवाई के निर्माण, बिक्री या वितरण पर रोक लगा दी है।

2016 में ही दिए गए थे टाइप-2 को नष्ट करने के आदेश
सरकार ने आदेश दिए हैं कि इस बात की जांच की जाए कि जब सभी कंपनियों को यह आदेश दिया गया था कि 25 अप्रैल 2016 तक पोलियो टाइप 2 वायरस को नष्ट कर दिया जाए तो यह बचा कैसे रह गया। एक अधिकारी ने बताया, 'सभी को निर्देश दिए गए थे कि जिसमें टाइप 2 वायरस हों उस ओरल पोलियो वैक्सीन को नष्ट कर दिया जाए।' गौरतलब है कि वैश्विक स्तर पर इस वायरस के खात्मे के बाद टाइप-2 का निर्माण बंद कर दिया गया था।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like