Online India

OnlineIndia   2018-09-09

जादू-टोने के शक में दलित महिला की पीट-पीटकर हत्या

OnlineIndia डेस्क l बिहार के सासाराम जिले में चार लोगों ने शनिवार को एक महिला की जादू-टोने के शक में पीट-पीटकर हत्या कर दी। घटना आंबेडकर चौक से सटे नहर किनारे दलित बस्ती की है। पुलिस ने चार में से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया, जिन्हें कोर्ट ने जेल भेजने का आदेश दिया। इससे पहले राज्य के बेगूसराय में तीन बदमाशों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।
डेहरी थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि विश्वनाथ राम और उनकी पत्नी माला देवी का पड़ोसी रंगबहादुर डोम, रामवतार डोम और हीरामुनी देवी का विवाद चल रहा था। माला के बेटों का मानना था उसके माता-पिता की तबीयत पड़ोसियों द्वारा किए गए जादू-टोना के कारण खराब रहती है। इस पर उन्होंने पड़ोसी के परिवार के एक युवक की पिटाई की थी। इसका बदला लेने के लिए पड़ोस के चार लोगों ने माला देवी को पीटा था। उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस मामले में रंगबहादुर डोम, रामवतार डोम और हीरामुनी देवी को गिरफ्तार किया गया है।
चार दिन पहले दो पक्षों में हुआ था पथराव : चार दिन पहले मंगलवार को दोनों पक्षों में जमकर मारपीट और पथराव हुआ था। डेहरी एसडीपीओ मोहम्मद अनवर जावेद ने बताया पथराव के दौरान बीच-बचाव करने गए विश्वनाथ को भी चोटें आई थीं। माला देवी के पति विश्वनाथ का दो दिन पहले ही लंबी बीमारी के कारण निधन हो गया था। वे जगजीवन राम कॉलेज में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी थे।
शुक्रवार को बेगूसराय में हुई थी मॉब लिंचिंग
बिहार के बेगूसराय में शुक्रवार को भीड़ ने पीट-पीटकर तीन बदमाशों की हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि वे एक छात्रा को अगवा करने के इरादे से नारायणपीपर गांव के स्कूल परिसर में दाखिल हुए थे। विरोध करने पर उन्होंने प्रधानाध्यापक से मारपीट की और हवा में फायर किए। मौके पर पहुंचे गांववालों ने आरोपियों को पीट-पीटकर मार डाला। इस मामले में गांववाले कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। पुलिस वीडियो फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश कर रही है।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like