Online India

Pooja Sharma   2018-07-28

छत्तीसगढ़ में है विश्व का सबसे बड़ा शिवलिंग

OnlineIndia छत्तीसगढ़। शायद ही कोई ऐसा हो, जो शिव महिमा से अंजान हो। वो भोले हैं...सर्वत्र हैं...कण-कण में हैं। यूं तो देशभर में 12 ज्योर्तिलिंग है, लेकिन इन सबसे अलग, अद्भुत रहस्मयी शिवलिंग भी है, जो हर साल बढ़ता है। जी हां, यह दुनिया का एकमात्र ऐसा शिवलिंग है, जो बढ़ता है।
भूतेश्वर महादेव राजधानी रायपुर से 90 किमी दूर और गरियाबंद जिला मुख्यालय से 3 किमी दूर ग्राम मरौदा में पहाड़ियों के बीच स्थित है भूतेश्वर महादेव का शिवलिंग। इसे विश्व का सबसे बड़ा शिवलिंग कहा जाता है। यह जमीन से लगभग 85 फीट उंचा एवं 105 फीट गोलाकार है।
बताया जाता है कि आज से सैकडों वर्ष पूर्व जमींदारी प्रथा के समय पारागांव निवासी शोभासिंह जमींदार शाम को जब अपने खेत में घूमने जाते थे, तो उन्हें खेत के पास एक विशेष आकृति नुमा टीले से सांड के हुंकारने (चिल्लाने) एवं शेर के दहाड़ने की आवाज आती थी।
गांव वालों के साथ खोजने पर वहां कोई शेर या सांड नजर नहीं आया। जिसके इस टीले के प्रति लोगों की श्रद्धा बढ़ गई। आज इस शिवलिंग में प्रकृति प्रदत जललहरी भी दिखाई देती है। जो धीरे-धीरे जमीन के ऊपर आती जा रही है।
यह भी किंवदंती हैं कि इनकी पूजा छुरा नरेश बिंद्रनवागढ़ के पूर्वजों द्वारा की जाती रही हैं। बताया जाता है कि शिवलिंग पर एक हल्की सी दरार भी है, जिसके कारण लोग इसे अर्धनारीश्वर का स्वरूप भी मानते हैं।
गरियाबंद जिले के भूतेश्वर महादेव में पूरे सावन मेले जैसा माहौल रहता है। मंदिर समिति और ग्रामीण इसकी तैयारी में जुटे हुए है। यहां पूरे प्रदेश सहित पड़ोसी जिला ओडिसा से बड़ी संख्या में भक्त आकर शिवलिंग में अभिषेक करते है। मंदिर परिसर के आसपास पूजा सामान की दुकानें सज गई है।

Please wait! Loading comment using Facebook...

You Might Also Like